होली पर निबंध - Holi essay in Hindi - NovoQuotes | Hindi Quotes, Shayari, Status, Wishes and Messages

Tuesday, January 12, 2021

होली पर निबंध - Holi essay in Hindi

होली पर निबंध - क्या आप होली पर निबंध पड़ना चाहते है और लिखना चाहते है? अगर हाँ तो आप बिलकुल सही जगह हो क्युकी यहाँ इस लेख में मेने आपके लिए Holi essay in Hindi लिखे है जिनके माध्यम से आप अपने स्कूल आदि में अच्छा प्रदर्शन कर सकते है।  

होली पर निबंध लिखना बेहद आसान है। आपको बाद अपने होली के सभी गुड़ दोष आदि का धियान रखना होता है। तो आपका ज्यादा वक्त न बर्बाद करते हुए सीधे भड़ते है Holi essay in Hindi की तरफ। आपसे अनुरोध है की होली पर निबंध आप अपने दोस्त और सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करे जिससे की वो  इनका प्रयोग कर पाए।  

होली पर निबंध - Holi Essay in Hindi

होली पर निबंध | Holi essay in Hindi

प्रस्तावना: होली का पर्व एक ऐसा पर्व है जो हर्ष और उल्लाहस के साथ बनाया जाता है। इस पर्व पर लोगो के अंदर एक अलग ऊर्जा पायी जाती है और लोग बढ़ चढ़कर होली को मनाते है। होली पर्व पर लोग एक दूसरे के गले लग सरे सिकवो को दूर करते है।  

होली की तैयारी: होली एक ऐसा त्यौहार है जिसकी तैयारी में लोग एक महीने से पहले से ही लग जाते है।  होली रंगो के साथ साथ अच्छे पकवान का भी पर्व है।  महिलाये अपने घर में उनके प्रकार के पकवान बनाती है जैसे गुजिया, दही भल्ले, गुलाब जामुन सबसे लोकप्रिय है। महिलाये अपने घरो की छत पर आलू के पापड़, चिप्स आदि बनाते हुए नजर आती है।  बच्चे इस दिन पतंग आदि भी उड़ाते है और नई पिचकारी लेकर एक दूसरे पर रंग भी डालते है।  

होली कब मनाई जाती हैं?

होली को मनाए का एक ऐतिहासिक एवं पौराणिक महत्व संसार में मन जाता है और ये ऋतुराज बसंत ऋतु के आगमन पर फाल्गुन मास की पूर्णिमा को पुरे परिवार के साथ हर्ष और उल्लाहस के साथ मनाया जाता है। 

होली कैसे मनाई जाती है? 

होली पर लोगो में जो उत्साह होता होता है वो सराहनीये होता है। होली पर बच्चे आते जाते लोगो पर पिचकारी से रंग बर्शते है और वही दूसरी तरफ बड़े बच्चे अपने दोस्तों के सात एक दूसरे को रंग लगते है। सुबह सब लोग एक दसूरे को गुलाल लगाकर गले लगते है तो वही दूसरी तरफ बड़े लोगो के थोड़ा गुलाल लगाकर आशीर्वाद लेते है। कुछ लोग होली के पर्व पर ठंडाई और भांग पीते है पर महिलाये अपना पकवान को तैयार करके फिर दुपहर के वक्त होली खेलने निकलती है और होली का आनद लेती है।  

भारत की प्रसिद्ध होलियां कौन सी है? 

भारत इतना बड़ा देश है की यहाँ हर शहर में अलग रीती रिवाज के साथ होली मनाई जाती है और बहुत धूम धाम से होली का आनद लिया जाता है। हर शहर की होली को अलग अलग नामो से पुकारा जाता है और जो मुख्या होली है उनके नाम है।
  • वृन्दावन की होली 
  • बरसाने की होली 
  • मथुरा की होली
  • ब्रज की होली 
  • काशी की होली 

होली का ऐतिहासिक महत्व क्या होता है और वे क्यों मनाई जाती है।  

होली वाले दिन सभह होलिका का दहन किया जाता है और ये होलिका के पीछे एक बहुत प्रसिद्द कहानी है। लोगो के और किताबो के मुताबिक प्राचीन काल में हिरण्यकश्यप नाम का एक राक्षस हुआ करता था जो की काफी दूस्ट था जिसकी एक दुष्ट बहन भी थी, जिसका नाम होलिका (होलिका को आग से न जलने का वरदान प्राप्त था) था। 

हिरण्यकश्यप का एक पुत्र जिसका नाम प्रह्लाद था। जो विष्णु का भक्त था और प्रह्लाद विष्णु उसके रोम रोम में समाये हुए थे लेकिन हिरण्यकश्यप स्वयं को भगवान मानता था। वह भगवान विष्णु के बहुत बड़ा विरोधी था, इसलिए वह भक्त प्रहलाद की विष्णु भक्ति के खिलाफ था। 

हिरण्यकश्यप ने भक्त प्रहलाद विष्णु भक्ति करने से रोकने के लिए भक्त प्रहलाद को मारने की बहुत योजनाए बनती लेकिन नाकाम रहा। अंत में हरिण्यकश्यप ने अपनी बहन होलिका से मदद मांगी और उससे भक्त प्रहलाद को मरने को कहा और उसने हां भर दिया। भाई के कहे अनुसार होलीका भक्त प्रहलाद को अग्नि में लेकर जलाने हेतु बैठ गई। होलीका उस आग में पूरी तरह से जलकर राख हो गई जबकि उसको अग्नि में न जलने का वरदान था लेकिन भगवान विष्णु की कृपा से भक्त प्रहलाद का कुछ भी नहीं बिगड़ा। इसलिए होली को बुराई के ऊपर अच्छी की जित की ख़ुशी में भी मनाया जाता है और इसका एक और कारण बताया जाता है की भगवन श्री कृष्ण नहीं इसी दिन गोपियों के साथ रासलीला की थी तो इसलिए हम सब इतने सालो से होली को मनाते आ रहे है।  

निष्कर्ष: होली पर लोग एक दूसरे से गलत सिकवो को मिटा कर गले लगते है और रिस्तो को मजबूत करते है। वृंदावन की होली भी काफी प्रसिद्द है और होली का एक नया प्रकार होता है जो है लठ वाली होली इसमें महिलाये अपने पति को लठ के द्वारा मरती है और पुरुष बचते है और ये भी काफी चर्चे में रहती है।  होली खुशिओ का त्यौहार है जो हमें अंधकार पर सत्य की जित सिखाता है।  

आखिरी शब्द:

आशा करता हूँ की आपको ये होली पर निबंध पसंद आया होगा जहा मेने Holi essay in Hindi लिखे है जिनका प्रयोग कर उच्च स्थान प्राप्त कर सकते है।  विद्यार्थी अपने क्लास में उच्च आने के लिए उत्सुक रहते है और में दुआ करता हूँ की आप इन होली पर निबंध को लिख कर उच्च स्थान प्राप्त करेंगे।  

अगर आपको ये Holi essay in Hindi अच्छे लगे हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करियेगा और होली से प्रेणा लेकर सत्य की रह पर चलिएगा बस यही Holi essay in Hindi हमें सीखता है। 

इन्हे भी पड़े -  Holi essay in Hindi