Maa Shayari | माँ के लिए शायरी | Shayari For Mom in Hindi

"माँ" ये शब्द भगवन का वो रूप है जो एक बच्चे को पैदा कर, सींच कर, उसको अपने पेरो पे खड़ा करता है।  में जब ये Maa ke liye shayari वाला आर्टिकल लिख रहा हूँ तब मुझे अपनी माँ की बहुत याद आ रही है वो किसी और शहर में है और में किसी और शहर।  इसीलिए आज ये Maa shayari उन सब माओ के लिए है जिन्होंने किसी न किसी को जिनगी दी है। में अपनी माँ से बहुत प्यार करता हूँ और मुझे पक्का पता है की आप भी अपनी माँ से बहुत प्यार करते है इसीलिए आप यहाँ आये है।   


Maa Shayari


मेरी आपसे एक बिनती है अगर इस लेख में से किसी भी शायरी को उठा कर अपनी माँ को जरूर सुनाना और उनको एक बार अपनी गले से जरूर लगाना।  में आपसे दावा करता हूँ उनको इतनी ख़ुशी होगी जितनी आपके पैदा होने पर उन्हें हुई होगी। तो बिना वक्त को और गवाए सीधे भड़ते है Best Maa Shayari की और।  



 Shayari For Mom in Hindi

 Shayari For Mom in Hindi



पहाड़ो जैसे सदमे झेलती है उम्र भर लेकिन, इक औलाद की तकलीफ़ से माँ टूट जाती है।



मांगने पर जहाँ पूरी हर मन्नत होती है, माँ के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है। 



मेरी खातिर तेरा रोटी पकाना याद आता है, अपने हाथो को चूल्हे में जलाना याद आता है। वो डांट-डांट कर खाना खिलाना याद आता है, मेरे वास्ते तेरा पैसा बचाना याद आता है।


मेरी माँ के लिए शायरी



चलती फिरती आंखों से अजां देखी है, मैंने जन्नत तो नहीं देखी लेकिन मां देखी है।


कल माँ की गोद में, आज मौत की आग़ोश में, हम को दुनिया में ये दो वक़्त बड़े सुहाने से मिले।


गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें हैं कितने भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी। 

माँ की ममता पर शायरी


माँ तेरी याद सताती है मेरे पास आ जाओ, थक गया हूँ मुझे अपने आँचल मे सुलाओ, उंगलियाँ अपनी फेर कर बालो में मेरे, एक बार फिर से बचपन कि लोरियां सुनाओ।

मुझे माफ़ कर मेरे या खुदा, झुक कर करू तेरा सजदा, तुझसे भी पहले माँ मेरे लिए, ना कर कभी मुझे माँ से जुदा!

आँसू निकले परदेस में भीगा माँ का प्यार, दुख ने दुख से बात की बिन चिट्ठी बिन तार।

मेरी प्यारी माँ


लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती, बस एक मां है जो मुझसे ख़फ़ा नहीं होती। 

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये, चोट लगती है हमें और तड़पती है माँ, हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें, जब मुसीबत आती है तो याद आती है माँ।

जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ, में खुदा से पहले मेरी माँ को जानता हूँ।

Maa Ka Pyar 2 Lines


भूल जाता हूँ परेशानियां ज़िंदगी की सारी, माँ अपनी गोद में जब मेरा सर रख लेती है।

मैं रात भर जन्नत की सैर करता रहा यारों, सुबह आँख खुली तो सर माँ के कदमों में था। 

वह माँ ही है जिसके रहते, जिंदगी में कोई गम नहीं होता, दुनिया साथ दे या ना दे पर, माँ का प्यार कभी कम नहीं होता।

Maa Ki Muskan Shayari


मां वो सितारा है जिसकी गोद में जाने के लिए हर कोई तरसता है, जो मां को नहीं पूछते वो जिंदगी भर जन्नत को तरसता है।

है गरीब मेरी माँ फिर भी मेरा ख्याल रखती है, मेरे लिए रोटी और अपने लिए पतीले की खुरचन रखती है।

इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है, माँ बहुत ग़ुस्से में होती है तो रो देती है। 

शायरी मेरी माँ के लिए


कही हो जाये ना घर की मुसीबत लाल को मालूम, छुपा कर तकलीफें तेरा मुस्कुराना याद आता है। जब आये थे तुझे हम छोड़ कर परदेश मेरी माँ, मुझे वो तेरा बहुत आंसू बहाना याद आता है।

माँ की बूढी आंखों को अब कुछ दिखाई नहीं देता, लेकिन वर्षों बाद भी आंखों में लिखा हर एक अरमान पढ़ लिया।

बालाएं आकर भी मेरी चौखट से लौट जाती हैं, मेरी माँ की दुआएं भी कितना असर रखती हैं।

माँ जन्नत होती है शायरी


किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता, ​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता। 

सब कुछ मिल जाता है दुनिया में मगर, याद रखना कि माँ-बाप नहीं मिलते, मुरझा कर जो गिर जाये एक बार डाली से, ये ऐसे फूल हैं जो फिर नहीं खिलते।

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाए, जिसको निगहों में बिठाया जाए, रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसे कि, वो अगर उदास हो तो हमसे श्री मुस्कुराया ना जाऐ।

Maa Ki Dua Shayari


ना आसमां होता ना जमीं होती, अगर मां तुम ना होती।

वो उजला हो के मैला हो या मँहगा हो के सस्ता हो, ये माँ का सर है इस पे हर दुपट्टा मुस्कुराता है।

किसी को घर मिला, किसी के हिस्से में दुकां आई, मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में मां आई। 


Bholi Maa Shayari


किसी भी मुस्किल का अब. किसी को हल नहीं निकलता,  शायद अब घर से कोई, माँ के पैर छुकर नहीं निकलता,



जिंदगी की पहली Teacher माँ, zindagi की पहली Friend माँ, जिंदगी भी माँ क्योंकि,  zindagi देने वाली भी माँ। 



घर में धन, दौलत, हीरे, जवाहरात सब आए, लेकिन जब घर में मां आई तब खुशियां आई।


Maa Par Shayari



बहुत बेचैन हो जाता है जब कभी दिल मेरा, मैं अपने पर्स में रखी माँ की तस्वीर को देख लेता हूँ।


न जाने क्यों आज के इंसान इस बात से अनजान हैं, छोड़ देते हैं बुढ़ापे में जिसे वो माँ तो एक वरदान है। 


माँ मैं तुझको खोना नहीं चाहती, तुझे देख रोना नहीं चाहती, तुझ से जुड़ गया है दिल मेरा, झे छोड़ कुछ पाना नही चाहती।

Maa Beautiful Shayari


मां तुम्हारे पास आता हूं तो सांसें भीग जाती है, मोहब्बत इतनी मिलती है की आंखें भीग जाती है। 

बेसन की रोटी पर, खट्टी चटनी सी माँ... याद आती है चौका, बासन, चिमटा, फूंकनी जैसी माँ।

एक मुद्दत हुई मेरी मां नहीं सोई तबिश, मैंने एक बार कहा था कि मुझे डर लगता है। 


Maa Ke Liye Shayari


हर रिसते में मिलावट देखी है, कच्चे रंगो की सजावट देखी है, लेकिन सालों साल देखा है, माँ को



हर घड़ी दौलत कमाने में इस तरह मशरूफ रहा मैं,  पास बैठी अनमोल मां को भूल गया मैं।



शहर में आ कर पढ़ने वाले ये भूल गए, किस की माँ ने कितना ज़ेवर बेचा था।


2 line Maa shayari in hindi



माँ तेरे दूध का हक़ मुझसे अदा क्या होगा, तू है नाराज तो खुश मुझसे खुदा क्या होगा। 


माँ से बड़कर कोई नाम क्या होगा, इस नाम का हमसे एहतराम क्या होगा, जिसके पैरों के नीचे जन्नत है, उसके सर का मक़ाम क्या होगा। 

मुसीबतों ने मुझे काले बादल की तरह घेर लिया, जब कोई राह नजर नहीं आई तो मां याद आई। 

Hindi Shayari on mother love

वो लम्हा जब मेरे बच्चे ने माँ पुकारा मुझे, मैं एक शाख़ से कितना घना दरख़्त हुई।

ना जाने माँ क्या मिलाया करती हैं आटे में, ये घर जैसी रोटियाँ और कहीं मिलती नहीं। 

घुटनों से रेंगते-रेंगते जब पैरों पर खड़ा हो गया, माँ तेरी ममता की छाँव में, जाने कब बड़ा हो गया।


Maa Shayari in Hindi

दुआ है रब से वो शाम कभी ना आए, जब माँ दूर मुझसे हो जाए।

नींद भी भला इन आँखों में कहाँ आती है, एक अर्से से मैंने अपनी माँ को नहीं देखा।

माँ है तो फिर सब कुछ है इस जहाँ में, कौन कहता है यहाँ जन्नत नहीं मिलती। 

Hindi Maa Shayari


हैरान हो जाता हूँ मैं अक़्सर, देखकर खुदाओं के दर पे हुजूम, माँ, तेरी गोद में मुझे, जन्नत का एहसास होता है।

जमाने ने इतने सितम दिए की रूह पर भी जख्म लग गया, मां ने सर पर हाथ रख दिया तो मरहम लग गया।

जब भी देखा मेरे किरदार पे धब्बा कोई, देर तक बैठ के तन्हाई में रोया कोई। "मेरी माँ"

माँ को कैसे मनाये? 

अगर आप अपनी माँ को मन चाहते हो तो उन्हें कुछ भी महंगा मत दो क्युकी वो माँ है और माँ को मन बहुत आसान है आप ऐसी हरकते करे जिससे वो हसे और आप उनको हमारी शायरियाँ सुना सकते है..

Closing Lines: 

बच्चा चाहे कितना भी गुस्सा हो जाये अपनी माँ से लेकिन अगर उससे उसकी माँ को अलग करने की पूछी जाये तो वो तुरंत ना बोल देगा और शायद आपको थप्पड़ भी लगा दे क्युकी माँ में उसकी जान बस्ती है।  ये maa shayari उन सभी के लिए है जो अपनी माँ से प्यार करते है। अगर आप भी अपनी माँ कुछ खुशिया देना चाहते हो तो ये maa shayari एक बहुत अच्छा तोहफा है क्युकी माँ के लिए महंगी चीज से ज्यादा तुमसे प्यार है।  

आशा करता हूँ की आपको ये best maa ke liye shayari पसंद आयी होंगी।  अगर आपको पसंद आयी है तो अपनी माँ को इन्हे सुनने में देर ना करे और हमें कमेंट करके बताये की उनको ये maa ke liye shayari किसी लगी। 


Related Post:

Post a Comment

0 Comments